आशीर्वाद लेने मात्र से Brain Tumor जड़ से हुआ खत्म।

इस पोस्ट में आज हम बतायेंगे की कैसे एक बहन का Brain Tumor सिर्फ आशीर्वाद मात्र जड़ से खत्म हो गया।

नमस्कार जी नमस्ते क्या नाम है जी आपका?

मेरा नाम मीना सुरंकी हैं।

मीना जी आप कहा से है?

में दिल्ली पालम से हूं।

मीना जी संत रामपाल जी महाराज से आपने नाम दीक्षा कब ली?

मेने 2006,में ली थी

संत रामपाल जी महाराज से नाम दीक्षा लेने से पहले आप क्या भक्ति साधना करती थी?

उनसे पहले में देवी देवताओं की पूजा करना मंदिर जाना ये सब भक्ति वगैरा करती थी

फिर आप संत रामपाल जी महाराज के शरण में कैसे आई?

संत रामपाल जी महाराज के शरण में, मैं अपने मामा के यहां गई हुई थी छुट्टियों में मेरी मोसी जी की तबियत खराब थी तो मेरे मामा जी को संत रामपाल जी महाराज के शिष्य मिले थे उन्होंने मेरे मामा को कहा था की आप इन्हे आश्रम लेके चलिए जब मेरे मामा हम सब बच्चों को और मोसी जी को आश्रम लेके गए थे और हमे सबको संत रामपाल जी महाराज से नाम दीक्षा दिलाई थी उसके बाद मेरी मोसी जी की तबियत बिल्कुल ठीक हो गई थी वो ज्यादा समय बिस्तर में रहती थी उनको बुखार था और वो छूट ही न रहा था और उन्हे काफी जगह पर दिखाया गया था और उन्हे कही आराम नही हो रहा था तो मामा जी को जब बताया गया आप संत रामपाल जी महाराज के शरण में लेके जाइए वहा पे इनको आराम हो जाएगा तो फिर मेरे मामा संत रामपाल जी महाराज के शरण में लेकर गए थे और उनको वहा पर नाम लेने के बाद आशीर्वाद लेते ही गुरु जी का संत रामपाल जी महाराज जी का और उन्हे आराम हो गया मोसी जी की तबियत ठीक हो गई जब हमने देखा तो हमने भी करौंथा
आश्रम से संत रामपाल जी महाराज से नाम दीक्षा ले ली।

मीना जी संत रामपाल जी महाराज से नाम दीक्षा लेने के बाद आपको क्या-क्या लाभ प्राप्त हुए?जी हमे बहुत सारे लाभ हुए

  • मेरी मम्मी को जो भूत प्रेत बाधाए थी वो ठीक हो गई उनको काफी सारे बाबाओं से और झाड़ फुक वालो से इलाज कराया था उनका भूत प्रेत की बाधाए ठीक नही हो रही थी जब संत रामपाल जी का नाम लिया तो उनकी भूत प्रेत की बाधाए ठीक हो गई थी
  • मेरे को भी सिर में परेशानी थी में जब भी कंघी करती थी तो मेरे सिर से खून निकलता था और मेरे सिर में काफी दर्द रहता था और दर्द रहने की वजह से में रात भर सोती नही थी काफी दर्द होता था और रोना आता था कुछ नही हो पा रहा था मेरी मम्मी मेरे को हॉस्पिटल लेकर गई हमारे पास में हॉस्पिटल था उसमे लेकर गई और वहा पे डॉक्टर ने देखा तो उन्होंने कहा इनको बड़े हॉस्पिटल लेकर जाइए इनका इलाज यहां पर नही हो पाएगा फिर हम सब बड़े हॉस्पिटल में लेकर गए फिर वहा पे मेरा चेकअप हुआ चेकअप होने के बाद फिर उन्होंने कहा कि इनको Brain Tumor है और इनका ऑपरेशन होगा इनकी कंडीसन इतनी खराब हो चुकी है इनका ऑपरेशन होगा फिर हम लोग संत रामपाल जी महाराज के यहां पे गए संत रामपाल जी महाराज से अरदास लगाई की मेरे को Brain Tumor बताया गया है मेरा संडे को ऑपरेशन है आप कृपा करना संत रामपाल जी महाराज ने कहा बेटा आप बस भक्ति करते रहो ठीक हो जाओगे हमने कहा ठीक है फिर हम संडे को हॉस्पिटल गए वहा पे जाकर हम बाहर बैठे हुए थे जब मेरा नम्बर आया तो उन्होंने कहा तुम बिल्कुल ठीक (Brain Tumor) है और उन्होंने कहा दोबारा टेस्ट करेगे आपके में थोड़ी सी प्रोब्लम आ रही हैं तो हमने दोबारा टेस्ट कराया तो Brain Tumor बिल्कुल ठीक था और मेरे को कोई परेशानी नही थी तो फिर उन्होंने कहा की ये कैसे हो सकता है आपकी तो ऑपरेशन की डेट दे रखी थी ये कैसे ठीक हो सकता है तो हमने कहा हमारे परमात्मा की कृपा है जिसकी वजह से संत रामपाल जी महाराज की कृपा से हमारा Brain Tumor बिल्कुल ठीक हो गया ये मेरा निशान है ये मेरा Brain Tumor था जो अब ये संत रामपाल जी महाराज जी कि दया से जो अब बिल्कुल ठीक हो चुका है
  • दूसरा लाभ भगत जी मुझे ये हुआ की में जब 10th class में थी मेने बोर्ड के जो रिजल्ट आने वाला था जो मेरे पेपरों में जो दी थी तो में काफी परेशान थी तो मम्मी ने कहा एक बार जाके तुम इसकी फीस भर आओ अपने एग्जाम की तैयारी करलो तो में सोचा ठीक है स्कूल गई तो वहा पे जाकर एग्जाम की फीस भरने तो मेम से कहा एग्जाम की मार्सिट निकाली तो मेने मेम से कहा एग्जाम की फीस भरनी है तो मेम ने कहा आप तो पास हो मेने कहा नही मेम में अभी कैफिन से निकलवाके लाई हु नही ये रही आपकी मर्सिट और आप बिल्कुल पास हो और बल्कि आपकी परसेंट काफी अच्छी आ रखी है और क्या कहते है आप पास हो तो ये भी संत रामपाल जी महाराज की कृपा थी में उनकी कृपा से पास हो गई

संत रामपाल जी महाराज से नाम दीक्षा लेने के बाद आपको बहुत सारे लाभ प्राप्त हुए जो दर्शक आपको देख रहे हैं वो भी किसी न किसी बीमारी से ग्रस्थ है तो वो संत रामपाल जी महाराज से कैसे जुड़ सकते हैं?

संत रामपाल जी महाराज से जुड़ने के लिए चैनल पे सत्संग आता है संत रामपाल जी महाराज का उसके नीचे पीली पट्टी चलती हैं उसपे आपको कॉन्टेक्ट नंबर मिलेंगे जिसपे आप कॉल कर के संत रामपाल जी महाराज से नाम दीक्षा प्राप्त कर सकते है ।।


धन्यवाद जी

सत साहेब

Watch Video of This Interview on Youtube Click Here

Read Also बोध दिवस संत रामपाल जी महाराज 17 फरवरी 1988

Order Now Free Book in your Language Click Here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *